आँखें कह रहीं हैं आसमान को देखूं,

आँखें कह रहीं हैं आसमान को देखूं,
पलकें कह रहीं हैं किस जहान को देखूं..
अजीब कशमकश है इन दो आँखों के बीच
ए दिल तू बता कि किस चाँद को देखूं.

Meri nazar ne tumhain sirf

meri nazar ne tumhain sirf

मेरी नज़र ने तुम्हें सिर्फ़ दिल तक आने की इजाज़त दी थी.
मेरी रूह में समा जाने का हुनर तेरा अपना था.

Tum apni shaam ki tanhaiya mujhe de do

image

तुम अपनी शाम की तन्हैया मुझे दे दो
बिखरती ज़ुल्फ की परछाईयाँ मुझे दे दो
मे डूब जाऊ तुम्हारे आँखो मे
तुम अपने दर्द की गहराइया मुझे दे दो
मे तुम्हे याद करू ओर तुम को ख़बर हो जाए मोहब्बत की वो सचाइया मुझे दे दो

Lamhe judai ko bekarar karte hai

image

लम्हे जुदाई को बेकरार करते हैं,
हालत मेरे मुझे लाचार करते हैं,
आँखे मेरी पढ़ लो कभी,
हम खुद कैसे कहे की आपसे प्यार करते हैं.

Kabhi alfaaz bhul jau

image

Kabhi alfaaz bhul jau
kabhi khayal bhul jaau

Tujhe es kadar chahu k
apni saans bhul jau

Uth kar tere paas se jo main chal doon, Toh jaate huye khud ko
tere paas bhul jaau…

Tere sine se lagkar teri aarjoo ban jaun

Tere sine se lagkar teri aarjoo ban jaun

Tere sine se lagkar teri aarjoo ban jaun
Teri sanso se milkar teri khushbu ban jaun
Fasle na rahe koi hum dono ke darmiyaan
Main, Main na rahu bus “TUM” ban jaaun…!!

Khayal mein Aata Hai Jab Uska Chehra

Khayal mein Aata Hai Jab Uska Chehra, 
To labon pe aksar Fariyaad aati hai 
Hum Bhool jatae hein Uske Sare Sitam, 
Jab Uski Thori Si Mohabbat Yaad Aati Hai.

Duriyon ki na parwa kijiye

Duriyon ki na parwa kijiye, 
Dil jabhi pukare bula lijiye, 
Hum zyada dur nahi aapse, 
Bus apni aankho ko palko se mila lijiye!